Thursday, May 30, 2024
Google search engine
HomeBusinessएयर बबल शीट बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें

एयर बबल शीट बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें

बबल शीट व्यापार क्या है (Bubble Sheet making Business Kya hai ):

Table of Contents

How to Bubble Sheet Making Business

हैलों दोस्तों आपका BusinessideasList.net के एक और बिजनेस ब्लाग में आपका स्वागत है। आज आपको इस लेख में एयर बबल शीट बिजनेस के बार में पुरी जानकारी देनें का कोशिश करेंगें। 

एयर बबल शीट का उपयोग प्रोडक्ट पैंकेजिग के लिए किए जाने वाला एक पारदर्शी पतली प्लास्टिक की मुलायम चादर होती है। जिसमें छोटे- छोटे बुलबुले में हवा भरी होती है, हवा भरे होने के कारण चादर गद्देदार हो जाती है। जब आप कोई इलेक्ट्रॉनिक सामाग्री जैसे मोबाइल फोन, कंप्युटर या अन्य कीमती समान खरीदते है तो उसमें यह मुलायम गद्देदार एयर बबल चादर को प्रोडक्ट के चारों तरफ से लपेट दिया जाता है। जिससे उस सामाग्री को सुरक्षित ग्राहक तक पहुंचाया जाता है। एयर बबल शीट बिजनेस पैकेजिंग इंडस्ट्री से सम्बन्धित व्यापार है।यह पेपर के तुलना में बेहतर स्क्रैच सुरक्षा प्रदान करता है।

एयर बबल शीट के साथ -साथ अपने ग्राहकों के आवश्यकता के अनुसार एयर बबल बैग, एयर बबल रोल तथा एयर बबल फिल्म भी बना कर सप्लाई कर सकते है। एयर बबल पॉलीइथाइलीन फिल्म में कम खर्च व अधिक लचीलापन होने के कारण पैकेंजिंग में प्रयोग अधिक किया जा रहा है।

 बबल शीट व्यापार क्या है (Bubble Sheet making Business Kya hai ): 

एयर बबल शीट एक मुलायम लचीली पारदर्शी प्लास्टिक की पतली चादर होती है। जिसमें छोटे- छोटे बुलबुले में हवा भरकर लेमिनेट किया जाता है। हवा भरी होने के कारण यह मुलायम और गद्देदार हो जाती है। किसी प्रोडक्ट की शिपिंग व भंडारण के समय प्रोडक्ट की सुरक्षा के लिए गद्दीदार एयर बबल चादर को उसमें लपेट दिया जाता है। जिससे इसमें लपेटा हुआ सामान जब जमीन पर गिरता भी है तो गद्दीदार एयर बबल के कारण भारी सामान में टुटने की सम्भावन कम हो जाती है, और हल्के वजन वाली सामान में नुकसान  नही  होता हैं। 

एयर बबल शीट का सबसे ज्यादा इसका प्रयोग ऑनलाइन  व इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट में  किया जाता है। एयर बबल के बुलबुलो के साइज के आधार पर कई प्रकार के होते हैं। जैसे एक टीवी या कम्प्युटर स्क्रीन के पैकिंग में इस्तेमाल होने वाले एयर बबल और एक मोबाइल के पैकिंग में होने वाले एयर बबल के बुलबुले के साइज में अंतर होता है।

 बबल शीट की बाज़ार में बिक्री की क्षमता (Market Potential In Bubble Sheet Making Business):

 पुराने जमाने मे अपने प्रोडक्ट को सुरक्षित  शिपिंग व भंडारण के लिए पहले घास फुस प्रयोग किया जाता था। उसके बाद लकड़ी के कटे हुए छीलन तथा कटे हुए कागज के टुकड़े प्रयोग किया जाता था। उसके बाद प्रोड़क्ट को अधिक सुरक्षा के लिए प्लास्टिक फॉम को प्रयोग किए जाने लगा। लेकिन अब प्रोडक्ट के पैकेजिंग के लिए अधिकतर एयर बबल शीट का प्रयोग किया जाता है। जैसे

  1. सभी प्रकार के टुटने -फुटने वाले नाजुक सामान में
  2. सभी प्रकार के इलेक्टॉनिक आइटम के पैकेजिंग में.
  3. दवा के बोलतों तथा शीशे से निर्मित सामान के पैकेजिंग में।
  4. केमिकल के पैकेजिंग में।
  5. मशीनरी एवं उपकरणों के पैकेजिंग में।
  6. ई कामर्स कम्पनी अपने लगभग सभी सामान के पैकेजिगं में। 

बबल शीट बनने की प्रक्रिया (Manufacturing Process of Bubble Sheet Making): 

  1. सबसे पहले LDPE( Low Density Polyethylene) के दानो को Extruder के होपर में डाला जाता है,
  2.  अब इन दानों को  Extruder की ओर पास कराया जाता है | 
  3. Extruder में LDPE की दानें पिघल कर अधिक दाब के कारण Plastic में बदल जाती हैं |
  4. उसके बाद  Extruder से Plastic को डाई के तरफ पास कराया जाता है।
  5. अब डाई के साइज के अनुसार प्लास्टिक  Layers Ring के रूप में परिवर्तित होती हैं
  6.  यही पर Bubble sheet की लम्बाई व चौड़ाई माप की Adjustment की जाती है |
  7.  Die में LDPE Sheets की दोनों Layers की मोटाई का गठन एक साथ किया जाता है |
  8. उसके बाद इन दोनों LDPE Layers को Stainless Steel से निर्मित Three roll finisher की ओर बढ़ाया जाता है। इसमें एक Roller से air bubble thermo बन रहे होते हैं, और दूसरी लेयर में दबाव अधिक होने के कारण Air bubbles लैमिनेट हो रहा होता हैं। इन रोलर द्वारा Bubble Vacuuming व लेमिनेशन तथा बाहरी सतह को ठंडा तीनों प्रक्रियां एक साथ हो रहे होते हैं। 
  9. अब बबल शीट पूरी तरह से तैयार करने के बाद चिल्लर के सहायता से ठण्डा करा के स्टोर किया जाता है।

बबल शीट का बिजनेस करने के लिए आवश्यक चीजें ( Requirement for Bubble sheet Making Business)

किसी भी प्रकार का बिजनेस शुरु करने से पहले, उसके सभी पहलु के बारे में जानकारी कर लेना सफल होने के लिए जरुरुी होता है। जैसे इस बिजनेस की सभी टेक्निकल सभी पहलु, कितना इनवेस्ट लगेगा और कितना संम्भावित मुनाफा होगा। कुछ आवश्यक चीजें इस प्रकार है।

  1. जगह (Space)
  2. मशीन व कच्चा माल (Machines and Raw Material)
  3. कर्मचारी (Stop)
  4. GST Number
  5. मार्केटिंग (Marketing)
  6. इन्वेस्टमेंट (Investment)
  7. मुनाफा (Profit)

एयर बबल बनाने का बिजनेस के लिए जगह (Space for Bubble Sheet making Business )

किसी भी प्रकार का बिजनेस को शुरु करने के लिए उस बिजनेस का ऑफिस व स्टोर के लिए जगह सबसे महत्वपुर्ण होता है। जगह का चुनाव करते समय यह देखना चाहिए कि टांसपोर्ट के आने जाने के लिए रास्ता सुगम हो, और टांसपोर्ट के लिए पांर्किग भी उपलब्ध होनी चाहिए। प्रोडक्शन के लिए मशीनों व स्टॉक के लिए बिल्डिंग का निर्माण करना चाहिए। यदि आपके पास इस प्रकार का उत्तम जगह है तो ठीक है नहीं तो उसके लिए जो खर्च आएगा उसका भी अनुमान करना चाहिए।

बबल शीट बनाने के लिए मशीनरी और कच्चे माल की ज़रूरत (Required Raw materials and Machinery): 

  1. ऑटोमेटिक बबल शीट मेंकिंग मशीन (Automatic Bubble Sheet making machine)

एयर बबल मेकिंग बिजनेस में सबसे जरुरी मशीनरी ऑटोमेटिक शीट मेकिंग मशीन है। इस मशीन में Extruder, Resin Die, Chiller इत्यादि प्रक्रिया एक साथ कर सकती है। यह मशीन 20 से 40 लाख के लागत  की आवश्यकता होती है।

  1. LDPE (Low Density Polyethylene) कच्चा माल के रुप में आवश्यकता होती है।

बबल शीट बनाने के लिए कर्मचारी (Worker for Bubble sheet Making business)

किसी भी बिजनेस को सफल बनाने में कम्पनी के कर्मचारी का अहम योगदान होता है। कर्मचारी की संख्या आप अपने बिजनेस के बड़े या छोटे आकार के अनुसार रख सकते है। अपने व्यापार में कर्मचारी रखने से पहले उसकी योग्यता का परख करना चाहिए। आपके बिजनेस का कार्य करने का जानकारी अच्छा होना चाहिए। 

बबल शीट बनाने के व्यापार के लिए GST Number 

किसी भी प्रकार के बिजनेस को शुरु करने के लिए व्यक्तिगत डाकुमेंट तथा बिजनेस डाकुमेंट की आवश्यकता पड़ती है। जो इस प्रकार के है।

  1. आईडी प्रुफ (ID Proof)  –  पैन कार्ड, आधार कार्ड, वोटर कार्ड, ड्राइवर लाइसेंस
  2. ऐ़ड्रेस प्रुफ (Address Proof) –  राशन कार्ड, इलेक्ट्रीक बिल
  3. बैंक एकाउंट पासबुक
  4. ईमेल
  5. फोन नम्बर
  6. फोटोग्राफ
  7. बिजनेस रजिस्ट्रेशन
  8. बिजनेस पैन कार्ड
  9. GST Number

एयर बबल शीट बनाने के बिजनेस का मार्केटिंग (Marketing for Bubble sheet Making Business)

कोई बिजनेस बड़ा हो या छोटा उसका मार्केटिंग को महत्वपूर्ण माना जाता है। एयर बबल शीट बनाने का मार्केट में बहुत अधिक डिमांड है। इसलिए इस बिजनेस का मार्केटिंग के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनो तरह से मार्केटिंग करने का प्रयास करना चाहिए। जैसे-

  1. बेवसाइट बनाकर 
  2. सोशल मीडिया मार्केटिंग
  3. कार्ड बनवा कर मार्केटिंग

बबल शीट बनाने का व्यापार करने के लिए लागत ( Investment for Bubble sheet making business)

एयर बबल शीट बनाने के बिजनेस में सबसे बड़ा इनवेस्टमेंट जमीन का होता है अगर आपके पास खुद का जमीन होगा तो आपका लागत कम होगा। ,बिजनेस को शुरु करने के लिए मशीन की जरुरत होती है, और कच्चा माल , पानी, बिजली  आदि की लागत लगानी पड़ती है। इस लिए इस व्यवसाय को शुरु करने के लिए  लगात लगभग 30 से 40 लाख रुपए तक की जरुरत पड़ सकती है।

एयर बबल शीट बनाने के बिजनेस में मुनाफा (Profit for Bubble sheet Making business) 

एयर बबल शीट बनाने का व्यापार एक ऐसा बिजनसे है जिसका मांग व डिमांड 12 महीनें तक रहता है। और इस बिजनेस में मुनाफा का मार्जिंग भी अधिक है। कभी आपने सोचा है की जो आपने ऑनलाइन सामान विक्रेता से खरीदा है, वह सुरक्षित हमारे पास पहुँचा है उसमें बबल शीट का कितना योगदान है। भले ही आप सामान निकालने के बाद फेंक देते है। टुटने फुटने वाले नाजुक सामान में या लगभग सभी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक आइटम की पैकेजिंग में एयर बबल शीट का प्रयोग होता है। एयर बबल बनाने के व्यापार में मुनाफा का इससे अनुमान लगा सकते है। 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments